कोरोना वायरस में ये है आयूर्वेदिक घरेलू उपाय।।

कोरोना वायरस में ये है आयूर्वेदिक घरेलू उपाय।।

coronaviruses


दोस्तों इन दिनों हम एक कोरोना नाम  के वायरस  के बारे में बहुत सुन रहे है  एक घातक वाइरस है जो चीन के वुहान में वायरल हुए वीडियो जिसमे बहुत सारे लोग मर रहे थे के  बाद काफी प्रचलन में  आया इस वाइरस के फैलने के बाद चीन में  मरने वालो की संख्या का आकड़ा बहुत तेजी से बढ़ने लगा है जो चीन सरकार के लिए बहुत बड़ा चैलेंज साबित हुआ है | यहा तक की चीन ने अपने लोगो को इस घातक वायरस से बचाने के लिए मात्र एक सप्ताह में 1000 बेड वाले हॉस्पिटल का निर्माण कर दिया है पर उसके बाद भी इस वायरस ने अपना काम शुरू रख़ा हुआ है ऐसे में इस वायरस के बारे में हमारे लिए जानना बहुत जरुरी है

कोरोना वाइरस क्या  है और कैसे फैलता है ??

कोरोना वायरस (सीओवी) का संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है. इस वायरस को पहले कभी नहीं देखा गया है. इस वायरस का संक्रमण दिसंबर में चीन के वुहान में शुरू हुआ था. डब्लूएचओ के मुताबिक, बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ इसके लक्षण हैं. अब तक इस वायरस को फैलने से रोकने वाला कोई टीका नहीं बना है.
What is a coronavirus


इसके संक्रमण के फलस्वरूप बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होती हैं. यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. इसलिए इसे लेकर बहुत सावधानी बरती जा रही है. यह वायरस दिसंबर में सबसे पहले चीन में पकड़ में आया था. इसके दूसरे देशों में पहुंच जाने की आशंका जताई जा रही है.


क्या हैं इससे बचाव के उपाय ??

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं. इनके मुताबिक, हाथों को साबुन से धोना चाहिए. अल्‍कोहल आधारित हैंड रब का इस्‍तेमाल भी किया जा सकता है. खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल या टिश्‍यू पेपर से ढककर रखें. जिन व्‍यक्तियों में कोल्‍ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें. अंडे और मांस के सेवन से बचें. जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचें.
आयुर्वेदिक उपाय !!
इसके साथ साथ आप कुछ घरेलू  आयुर्वेदिक उपाय करके  भी खुद को इस वाइरस से बचा सकते है
कोरोना वायरस का इलाज संभव है और आसान भी
ख़ास बात है की ये हमारे देश में पायी जाने वाली औषधि ( लहसुन ) से ही ठीक हो जायेगी ।।
जिसे हो और जिसे ना हो वो भी ये इलाज करके अपने को सुरक्षित और स्वस्थ कर सकते है ।।
अच्छी जानकारी, वुहान कोरोना वायरस ठीक किया जा सकता है
सिर्फ एक कटोरा उबला हुआ पानी ले और उसमे लहसुन डाल दें।
प्राचीन चाइनीज डॉक्टर ने इसकी कर्यशमता को सिद्ध किया है।
बहुत मरीजों ने इसे अपनाया और  प्रभावशाली माना है।
सामग्री:-
8 लहसुन की कलियों को काट कर
उसे 7 कप  पानी में डाल कर उबाल लें  ।

What is a coronavirus


फिर लहसुन की कलियों को खा लीजिए और पानी पी जाइए।


एक रात  में ही सुधार आ जाएगा और आराम मिलेगा।
और  साथ  ही शुद्ध सात्विक आहार विहार का पालन करे. गिलोय और तुलसी का नियमित सेवन करें. यही दोनों औषध किसी भी तरह के respiratory infection से बचाने के लिए पर्याप्त है. याद रखे किसी भी वायरस को नष्ट नहीं किया जा सकता है. लेकिन स्वयं का प्रतिरोधक तंत्र इतना मजबूत कर सकते हैं कि यह वायरस हानि ना कर सके. इस काम के लिए गिलोय और तुलसी पर्याप्त हैं.
What is a coronavirus



गिलोय की 6 - 7 इंच लंबे तने को चबाते हुए रस निगल लें. तुलसी की पत्तियों को पीसकर शुद्ध शहद मिलाकर चाट लें. एक दो काली मिर्च मिला लें. इतने से ही इम्यून सिस्टम बे‍हतर होने लगेगा.


यदि किसी को गिलोय को चबाना चूसना तुलसी की पत्तियों को पीसना सिरदर्दी का काम लगता है तो बाजार से नामी गिरामी फार्मेसी की तुलसी घनवटी और गिलोय सत्व ले आये . दो गोली तुलसी घनवटी की चबाकर ऊपर से एक ग्राम गिलोय सत्व मिला हुआ शहद चाट लें. बस हो गया काम कोरोना ही नहीं किसी भी प्रकार के वायरस के प्रति अभेद्द्य सुरक्षा कवच इन दोनों के सेवन से मिल जाता है. !!!!!



अपने दोस्तों और परिवार क लोगो को भी इसके बारे में जानकरी दे ताकि वो भी इसके प्रति जागरूक हो सके|




कृपया करके सन्देश आगे भेजे ताकि औरो को भी इसका लाभ मिल सके।

आपको हमारा लिखा ब्लॉग पसंद है तो कृपया अपना कमेंट जरूर दे

2 Comments

Previous Post Next Post