subscribe our channel

जाने मानव शरीर का immune system Corona वायरस के विरुद्ध कैसे लड़ रहा है

नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है हमारे ब्लॉक पर फिर मैं एक इंटरेस्टिंग टॉपिक लेकर आया हूं आज मैं बताऊंगा कि ।मानव शरीर का immune system Corona वायरस  के विरुद्ध कैसे लड़ रहा है?



immune system in hindi

प्रतिरक्षा प्रणाली एक मेजबान रक्षा प्रणाली है जिसमें एक जीव के भीतर कई जैविक संरचनाएं और प्रक्रियाएं शामिल हैं जो बीमारी से बचाता है। ... यहां तक   कि सरल एककोशिकीय जीव जैसे कि बैक्टीरिया एंजाइम के रूप में अल्पविकसित प्रतिरक्षा प्रणाली के अधिकारी होते हैं जो बैक्टीरियोफेज संक्रमण से रक्षा करते हैं। ।इस सिस्टम का मुख्य काम यही है कि यह शरीर से जीवाणु तथा कवको की शरीर से हानिकारक तत्वों को बाहर निकालता है। ओर  शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देता है।

।।जाने मानव शरीर की  immune system CORONAVIRUS का मुकाबला कैसे करती है?।। 


करोना वायरस को रोकने के लिए हर देश का विज्ञानिक उसकी खोज में लगा हुआ है इसके चलते ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों ने यह दावा किया है कि मानव मानव शरीर का इम्यून सिस्टम करोना वायरस से किस तरह से लड़ कर उसे कैसे हराता है। इसकी खोज की है ।आपको बता दें कि यह खोज ऑस्ट्रेलिया में नेचर मेडिसिन जनरल में प्रकाशित किया गया है।



 उनका कहना है कि इस खोज से इस संक्रमण की वैक्स को तैयार करने में आसानी होगी तथा जल्दी तैयार होने की संभावना है। और वहां के प्रोफेसरों का भी यही कहना है कि यह अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है कि हम पता लगा रहें है की हमारा शरीर इस संक्रमण से किस तरह से काम करता है ।
तथा इस शोध के बारे में और देशों के वैज्ञानिकों ने भी इसको सहराना दी हैं। अपने आप में एक बड़ी सफलता को बताया है।

।।जाने की शोधकर्ताओं ने किस तरह मानव शरीर के immune system  इस रोग से कैसे लड़ता है? 


पहले इस पर किसी भी वैज्ञानिक ने  ज्यादा जोर नहीं दिया था जब इन शोधकर्ताओं के द्वारा इस पर रिसर्च की गई तो उन्होंने जाना कि जिसमें 4 प्रकार की प्रतिरक्षा कोशिकाओं की पहचान की गई जो करोना वायरस के संक्रमण से लड़ने में सहायक पाई गई। आपको बता दें इन कोशिकाओं का पता एक महिला संक्रमित थी जिसकी जांच करने की बाद उन्हें पता चला लेकिन उनको संक्रमण के अलावा कोई और दूसरी बीमारी नहीं थी। बता दे यह महिला चीन के विहान शहर की थी जब वह इस वायरस से संक्रमित हुई तब होने ऑस्ट्रेलिया के इस अस्पताल में भर्ती कराया गया उन्हें इन डॉक्टरों के द्वारा ट्रीटमेंट दिए जाने लगा जिससे उन्हें 14 दिनों में पूरी तरह से ठीक कर दिया गया और पूरी तरह से स्वस्थ हो गई।

वहां के प्रोफेसरों ने बताया कि उस महिला के केंद्रक में immune system था। उन्होंने पूरी तरह से कोशिश की कि उस महिला का शरीर का इम्यून सिस्टम इस कोरोनावायरस को किस तरह से लड़कर हरा रहा है संक्रमित होने के 3 दिन के बाद उसके शरीर में कुछ सुधार आने लगा तब देखा गया कि उसके शरीर कुछ विशिष्ट प्रकार की कोशिकाओं को देखा गया उस प्रकार की कोशिका थी जो इन्र्फ्लिंजा के मरीजों मैं देखा जाता है।

इस खोज के बाद ऑस्ट्रेलिया के स्वास्थ्य मंत्री Greg hunt का का कहना है कि कि इस करोना वायरस की वैक्सीन बनाने में आसानी होगी और जल्दी से संक्रमित लोगों का इलाज हो पाएगा।

 ।।जाने ऑस्ट्रेलिया के शोधकर्ताओं का अगला कदम क्या है?

ऑस्ट्रेलिया के शोधकर्ताओं  का कहना है कि उन्हें यह पता लगाना है कि जिन मामलों में यह संक्रमण बहुत अधिक था तब हमारा  immune system क्यों नहीं काम कर रहा था इसकी क्या वजह थी तथा उनके बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करनी है कि उन्हें पहले से कोई रोक था या उनके शरीर में ऐसी कोई और कमी थी जिनके वजह से उनका शरीर कार इमेज सिस्टम इस वायरस के प्रति काम नहीं कर पाया। और वह अपनी शोध को जारी रखेंगे जब तक कि इस वायरस का सही मायने से पता लग ना जाए


आप भी अपना और अपने परिवार का धयान रखे और सरकार का lockdwon  में सहयोग करें ज्यादा से ज्यादा लोगो को इसके बारे में जानकारी दे और अफवाहों पर ध्यान  न दे भारत सरकर के दिशा निर्देशों का पालन करें
अपने घरो से बाहर न निकले सstay home stay safe.

अगर आपको ये जानकरी अच्छी लगी हो तो इसे  अपने दोस्तों के साथ साँझा करे


जाने कोरोना वायरस के आयुर्वेदिक उपाय 






Post a Comment

0 Comments