ज्ञान की बातें :ये बाते जो आपके ज्ञान में बढ़ोतरी करेगी ???

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सब आशा करते हैं आप सभी स्वस्थ होंगे और अपने परिवार के साथ lockdwon के समय में हंसी खुशी समय बिता रहे हैं दोस्तों हर व्यक्ति जो भी जन्म लेता है  उसके अंदर एक ऐसा शक्ति होती है उसके अंदर एक ऐसी ताकत होती है जिसके बल पर वह दुनिया में कोई भी काम कर सकता है पर क्या हम कभी भी इस बात को जानने के लिए प्रयास करते हैं  शक्ति क्या है वो ताकत क्या है जिसके दम पर दुनिया में कोई भी काम कर सकते देखिए जब बीमार होता है तो उसे एक डॉक्टर की जरूरत पड़ती है अगर किसी व्यक्ति को कोई घर बनवाना है तो उसे मिस्त्री की जरूरत पड़ती अगर किसी व्यक्ति को शिक्षा ग्रहण करनी है तो उसे एक टीचर की जरूरत पड़ती है अगर किसी व्यक्ति को कोई चीज खरीदनी है तो उसे दुकान पर जाना पड़ता है उसी प्रकार एक व्यक्ति को उसकी जरूरत के हिसाब से उसे अपने कार्य क्षेत्र में या जरूरतों को पूरा करने के लिए उसके संबंध में क्या हमने कभी भी इस बात पर गौर की कभी भी हमने इस बात पर विचार किया ???



हमें समाज में संसार में जो भी आवश्यकता की पूर्ति करनी होती है तो हम उसके संबंध में जो उस आवश्यकता को पूरा करता है उसके पास चले जाते हैं और हमारी जरूरतें पूरी हो जाती कभी आपने यह सोचा कि जो यह मानव तक मिला है जो यह मानव का चोला है यह मानव का शरीर मिला है इसकी सभी जरूरतों को पूरा हम करते हैं इसको सजाते हैं सवारते हैं | कल क्या हमने कभी किस बात पर विचार किया कि जिस शरीर को हम सवार रहे हैं शरीर को हम अच्छा बना रहे हैं वह तो 1 दिन हमारा साथ छोड़कर चला जाए हम क्या काम करें |
 ऐसा क्या काम करें जिससे कि हमारे पास वो चीज कभी जाए ना हमारे पास वो चीज हमेशा रहे मानव तन सवारने सजाने के साथ-साथ हमें हमारी आत्मा के लिए भी कार्य करना है आत्मा को भी सजाना सवारना है जिसके लिए हमें जिस प्रकार शरीर को सजाने संवारने के लिए हमें मेकअप करना पड़ता है हमें अच्छे सौंदर्य दिखने वाले संसाधनों का उपयोग करना पड़ता है तो उसी प्रकार हमें अपनी आत्मा को सजाने संवारने के लिए भी प्रयास करना है क्योंकि यह हमारा जो मानव का शरीर है यह तो 1 दिन नष्ट हो जाएगा एक दिन यह खत्म हो जाएगा इसका नाश हो जाएगा इस को जला दिया जाएगा या फिर दफना दिया जाएगा 
gyan ki baatein image 2020

लेकिन जो हमारी आत्मा है वह अजर है अमर है वह सास्वत है जो कि कभी मरती नहीं है और जागना कभी नष्ट होती है इसलिए हमें उस को सजाने संवारने का काम करना है हमें हमारे शरीर को हष्ट पुष्ट बनाने के साथ-साथ हमारी आत्मा को भी सजाना हैं  इसके लिए जैसे शरीर को सजाने संवारने के लिए हम संसार में समाज में अलग-अलग संसाधन है जिनके द्वारा शरीर को सजाते है उसी प्रकार आज आत्मा को कैसे सजाना सवारना हैं चलिए जानते हैं | 

 ज्ञान की बातें : आत्मा की सजावट :-

आत्मा को सजाने संवारने के लिए भी ऐसी जगह है एक ऐसा प्रक्रिया है जिसके द्वारा हम अपनी आत्मा को भी सजा सकते हैं हम इस मानवता महान बना सकते हैं हमारी आत्मा उसके लिए समझना पड़ेगा कि हमारी आत्मा क्या है रूप क्या है यह कैसी दिखती है कहां रहती है या फिर कहां करती है इसलिए अपने धार्मिक जो वेद ग्रंथ है धार्मिक पुस्तकें हैं क्योंकि हमें खुद को जानने के लिए हमारी आत्मा को जानने के लिए हमारे पहले से ही इस चीज का वर्णन हमारे वेद कर दिया धार्मिक पुस्तकों में इसको आत्मा को सजाने का जिस प्रकार व्यक्ति को शिक्षा ग्रहण करना चाहता है
 कोई छात्र है उसको एक शिक्षक की आवश्यकता होती है वह शिक्षक उसे उच्च शिक्षा का ज्ञान देता है जिसके द्वारा वह समाज को समाज के रीति-रिवाजों को समाज के अन्य प्रक्रियाओं को समझता है जिसके बाद वह समाज में विचरण करता है उसके बाद वह एक समाज का एक हिस्सा बन जाता है और उसे एक नागरिक कहा जाता है सख्त नागरिक कहा जाता है जिसे हर चीज का ज्ञान होता दोस्तों आज का ज्ञान लेकिन एक ऐसा ज्ञान भी है जो जिसके द्वारा जो हमारे शरीर के अंदर होता है जिसके द्वारा आत्मा को सजा संवार सकते हैं वह कौन सा ज्ञान होता है जिससे अपनी आत्मा को सजा सकते हैं | 

ज्ञान की बातें : गुरु की खोज 

 आपको अगर इस ज्ञान को जानना है तो उसके लिए भी आपको एक गुरु की आवश्यकता है एक टीचर की आवश्यकता है जिसके बाद आप इस आत्मज्ञान को जान सकते हैं तो अब सवाल यह आता है कि वह आत्मिक ज्ञान क्या है जिसके द्वारा हम जान सकते हैं अपनी आत्मा को सवार सकते हैं सजा सकते हैं देखिए तो सबसे पहले हमें समझना होगा कि वह गुरु कौन से हैं जिनके द्वारा में आत्मा का ज्ञान दे सकें या आत्मा का ज्ञान अमित राज सबसे पहले तो गुरु का जो मतलब है वह यह होता है कि गो अंधेरा जानिए रू कहिये प्रकाश यानी कि जो गुरु होता है वह अंधेरे से प्रकाश की ओर ले कर जाता है जो हमारे जीवन में जिस प्रकार कुछ जानता है तो हम उसे प्रकाश में ले जाकर या कोई चीजों नहीं दिखती हो तो हम उसे प्रकाश में ले जाकर देख सकते हैं 
gyan ki baatein image 2020

उसी प्रकार जब हमारे अंधेरा है तो हमारे जीवन में वह प्रकाश रूप का काम करते हैं वह प्रकाश बन कर आते हैं जिसके बाद हम अपने अंदर के द्वारा भी खुद को जान सकते हैं तो अब हमें यह जानना है कि वह गुरु कौन से होते हैं जो हमें प्रकाश रूप के दर्शन करा सके या फिर जो प्रकाश रूपी गुरु कौन होते हैं प्रकाश रूपी गुरु होते हैं जो खुद प्रकाश होते हैं जो खुद एक लाइट होते हैं और जो दूसरों को भी जगमग कर देते हैं जो उनके संपर्क में आता है जो उनसे वह ज्ञान को प्राप्त करता है इसलिए अब आपको समझना है वह कौन होते हैं जो हमें प्रकाश दिखा देते हैं 
यानी कि हमारे घर के अंदर हमारे शरीर के अंदर ही प्रकाश के दर्शन करा देते हैं जिसके बाद हम अपनी आत्मा के ज्ञान को जान सकते हैं जब उसे पूर्ण कहते हैं जब जीवन में आते हैं तो आपको ज्ञान देते हैं आत्म ज्ञान देते हैं उस ज्ञान के द्वारा आप खुद को जान पाते हैं आप खुद अपनी आत्मा को जान पाते हैं और आपके अंदर जो प्रकाश है उसको देख पाते हैं ऐसे गुरु समय-समय पर आते रहे हैं महाभारत के समय से रामायण के समय से समाज को मार्गदर्शन करने के लिए आते रहे हैं तो इस कलयुग के समय में भी ऐसे हैं जो कि आपको आपके आत्मज्ञान के के रूप में उस प्रकाश के दर्शन करा सकते हैं जो आपके शरीर में हैं जो आपके घर में हैं अंदर है जो आपके अंदर है

ज्ञान की बातें : कौन सा गुरु श्रेष्ठ ??

 तो दोस्तों ऐसे गुरु कि समाज में बहुत सारे गुरु हैं तो आज हमें ऐसे ही गुरु की तलाश करनी है ऐसे गुरु को खोज करनी है जो कि मैं उस ज्ञान का बोध करा दे प्रकाश के दर्शन करा दे घर के अंदर हमारे शरीर के अंदर और उस प्रकाश के दर्शन कराने के लिए वह आपसे कुछ नहीं लेंगे बस वह आपको उस ज्ञान 24 घंटे आप उसे अपने घर में अपने शरीर के अंदर देख पाएंगे जब जब भी आप ध्यान में बैठेंगे तो उस प्रकाश को अपने अंदर देखेंगे वही प्रकाश आपकी आत्मा है उसी आत्मा को जब आप उसी प्रकाश को जवाब ध्यान में बैठकर देखोगे तो आपकी आत्मा भी सज्जन सज्जन में सवरने लगे गई जैसे वह अपने शरीर को सजाते सवार थे इस करके हमें आत्मा को भी शरीर के साथ-साथ सजाना है सवारना है ताकि जब भी हमारी मृत्यु हो तो उसके बाद जो आत्मा जो अजर है जो अमर है उसका भी कल्याण उसके और हमारा शरीर जो कि नाश होने वाला है उसको भी कल्याण मार्ग पर आगे बढ़ना है | 
और आप अपने जीवन में गुरु की खोज करें जो आपको आपके आत्मा का ज्ञान करवा दे उसके बाद आप भी अपनी आत्मा को सजाने संवारने का काम कर सके और खुद को कल्याण के मार्ग पर बना सके धन्यवाद
अगर आपको मेरा संदेश पसंद आया हो यह लेख पसंद आया हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ भी सांझा करें धन्यवाद
यह भी पढ़े :-

Post a Comment

6 Comments