chandan mitra biography in hindi | chandan mitra wiki | age,death,education,carrier,death

chandan mitra biography in hindi | chandan mitra wiki | age,death,education,carrier,death

[ chandan mitra rajya sabha,chandan mitra illness,http://chandanmitra.com,chandan mitra the pioneer,chandan mitra twitter,chandan mitra bjp,chandan mitra news,chandan mitra joins tmc,chandan mitra biography in hindi,chandan mitra wiki ]

chandan mitra biography in hindi | chandan mitra wiki | age,death,education, carrier



नाम - चन्दन मित्रा 

जन्म- 12 दिसंबर 1955, हावड़ा, पश्चिम बंगाल, भारत

मृत्यु -2 सितंबर 2021 (आयु 65), दिल्ली, भारत

राजनीतिक दल -अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (2018-2021) अन्य राजनीतिक

संबद्धता -भारतीय जनता पार्टी (2010-2018)

जीवनसाथी (पति)- शिबोरी गांगुली

बच्चे- दो बेटे

पिता -मोनिंदर नाथ मित्र

निवास- सैनिक फार्म, नई दिल्ली

अल्मा मेटर- दिल्ली विश्वविद्यालय (बीए, एमए), ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय (डीफिल)

व्यवसाय- पत्रकार/लेखक

Chandan mitra wiki :-

चंदन मिश्रा का जन्म बंगाल में 12 दिसंबर 1955 को हुआ  पायनियर न्यूज़पेपर में  मैनेजिंग डायरेक्टर जर्नलिस्ट और एडिटर थे  जिनका ऑफिस दिल्ली में बना हुआ है  2003 से लेकर 2009 तक उनको राज्यसभा मेंबर चुना गया था जून 2010 के अंदर उनको भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश से एमपी चुना गया था और 2018 में उन्होंने तृणमूल कांग्रेस को ज्वाइन कर लिया था 

Chandan mitra education :-

चंदन मित्रा ने La Martiniere Calcutta, मैं अपनी पढ़ाई पूरी की थी और उनको अवार्ड के रूप में गोल्ड मेडल मिला हुआ था 1971 के अंदर स्वपन दासगुप्ता प्रणव जैगुआर तर कुत्ता उनके सहपाठी रहे हैं तीनों ने मिलकर संत स्टीफन कॉलेज यूनिवर्सिटी दिल्ली के अंदर पढ़ाई की थी  मित्राने m.a. और एमफिल हिस्ट्री में दिल्ली यूनिवर्सिटी से पूरा किया था  थोड़े समय के लिए हंसराज कॉलेज में भी गए थे 1984 के अंदर उन्होंने अपनी डॉक्टरेट की डिग्री ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से पूरी की और वह मेडेलेंड कॉलेज "Political mobilisation and the nationalism movement in India – a study of eastern Uttar Pradesh and Bihar, 1936-1942"  मित्रा की शादी Shobori Ganguly.  मित्रा की मृत्यु 2 सितंबर 2021 को हो गई

Chandan mitra carrier :-

दिल्ली में टाइम्स ऑफ इंडिया और फिर द संडे ऑब्जर्वर में जाने से पहले मित्रा ने कोलकाता में स्टेट्समैन के साथ पत्रकारिता में सहायक संपादक के रूप में शुरुआत की; वह आगे चलकर अखबार के संपादक बने, और बाद में कार्यकारी संपादक के रूप में हिंदुस्तान टाइम्स में चले गए। मित्रा ने द पायनियर में संपादक के रूप में शामिल होने के लिए छोड़ दिया, और अंततः 1998 में थापर परिवार से अखबार का नियंत्रण खरीदा जब उद्योगपति एल.एम. थापर ने अपने घाटे में कटौती करने का फैसला किया।

Post a Comment

0 Comments