Sindhutai Sapkal biography in hindi | sindhutai sapkal movie,sindhutai sapkal in hindi,death,age,education

Sindhutai Sapkal biography in hindi | sindhutai sapkal movie,sindhutai sapkal in hindi,death,age,education

आज हम इस लेख में आपको एक चर्चित नाम सिंधुताई सपकाली जो एक सामाजिक कार्यकर्ता है, के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे। 

[ sindhutai sapkal movie, sindhutai sapkal in hindi, sindhutai sapkal death, sindhutai sapkal daughter, sindhutai sapkal age, sindhutai sapkal husband, sindhutai sapkal ashram, sindhutai sapkal wikipedia ]

Who is Sindhutai Sapkal ?

सिंधुताई सपकाली एक सामाजिक कार्यकर्ता है जिनका हाल ही में निधन हो गया है। इनके द्वारा संचालित अनाथालय कई शहरों में है। इनकी सेवाओं के लिए इन्हें काफी national, international awards मिले हैं। इनकी जीवनी पर एक मराठी फिल्म भी बन चुकी है। 

Sindhutai Sapkal wiki , age, family, lifestyle, income, education, profession, hobby

Sindhutai Sapkal biography in hindi | sindhutai sapkal movie,sindhutai sapkal in hindi,death,age,education


नाम - सिंधुताई सपकाली(Sindhutai Sapkal)

उपनाम- mai (माई)

बचपन का नाम- chindhi (चिंधी),

पेशा - social worker (सामाजिक कार्यकर्ता)

जन्म -14 November 1948, 

मौत- 4 January 2022

जन्म स्थान- Pimpri Meghe,wardha (Maharashtra) 

राष्ट्रीयता-  Indian 

Religion- हिन्दू 

उम्र- 74 years

पिता - Abhimaan Sathe

माता- N/A

Marriage status -  विवाहित 

Husband-  श्रीहरि सपकाल

चर्चा में क्यों - 4 January 2022 को निधन हो गया। 

कौन है सिंधुताई सपकाली?

सिंधुताई सपकाली एक सामाजिक कार्यकर्ता है, जिन्हें  अपने कार्य से 273 से अधिक national व international awards मिले हैं। इनका निधन हाल ही में 4 January 2022 को हो गया है। 

Sindhutai Sapkal Biography,wiki:-

सिंधुताई का जन्म 14 November 1948 को महाराष्ट्र के wardha जिले के "Pimpri Meghe" गांव में हुआ था। उनके पिता को "अभिमान साठे" कहा जाता था जो charava (पशु चरवाहा ) थे। 

सिंधुताई अपने घर में इकलौती बेटी थी फिर भी उन्हें  घर में हर कोई पसंद नहीं करता था (क्योंकि वह एक बेटी थी, बेटा नहीं)। उन्हें घर में साले "चिंधी(chindhi)"  कहते थे। 

सिंधु के पिता सिंधु को पढ़ाना चाहते थे,परन्तु उनकी मां को यह पसंद नहीं था, फिर भी उनके पिता ने  सिंधु की मां के खिलाफ सिंधु को स्कूल भेजा।

मां की असहमति और घर की financial condition के कारण सिंधु की study में अनेक problem होती  रही।

जब सिंधु ने 4th class के exam पास की, तो उसे economic conditions, घरेलू कर्तव्यों और बाल विवाह को तोड़ने के कारण school बीच में ही drop करना पड़ा।

Sindhutai Sapkal Marriage ,journey:-

सिंधुताई जब 10साल की थीं, तब उनकी marriage 30 साल के "श्रीहरि सपकाल" से हुआ था। वह 20 वर्ष की age में 3 बच्चों की माँ थीं। 

सिंधुताई ने ग्राम प्रधान के District officer से शिकायत की, कि उन्होंने ग्रामीणों से charge नहीं लिया है। अपने अपमान का बदला लेने के लिए मुखिया ने ग्रामीणों को, श्रीहरि को सिंधुताई को घर से बाहर निकालने के लिए उकसाया, इस time वह 9 महीने की pregnant थी। उसी रात उसने एक तबले (गाय और भैंस) में एक लड़की को जन्म दिया।

जब वह अपनी माँ के घर गई, तो उसकी माँ ने उसे अकेले accept करने से मना कर दिया (उसके पिता की death हो गई, वरना  वह उसकी बेटी को रखता)। सिंधुताई अपनी बेटी के साथ Railway station पर रहने लगी। अपने खाने के लिए और अपनी, अपनी बेटी की सुरक्षा के लिए रात में श्मशान में रहने लगी।

अपनी लड़ाई (journey) में, उसने feel किया कि देश में कितने ही अनाथ हैं जिन्हें माँ की ज़रूरत है। उसी time से उन्होने decide किया कि जो भी अनाथ उसके पास आएगा वह उसको अपना बच्चा बनायेगी। 

चर्चा में क्यों:-

हाल ही में 4 January 2022 को निधन हो गया। 

Sindhutai Sapkal work career, income:- 

सिंधुताई ने अपनी पूरी life अनाथों को समर्पित कर दी। इसलिए उन्हे सभी "माई" (माँ) कहते है। उन्होंने 1050 अनाथ बच्चों को गोद लिया। उनकी Family में आज तक उनके 207 बेटे और 36 बहुएं थीं। उनके 1000 से अधिक पोते-पोतियां हैं। 

Sindhutai Sapkal biography in hindi | sindhutai sapkal movie,sindhutai sapkal in hindi,death,age,education


उनकी बेटी lowyer है और गोद लिए गए कई बच्चे Doctor, engineer, lower हैं और उनमें से कई अपना अनाथालय भी चलाते हैं। 

सिंधुताई को महिलाओं और बच्चों के लिए सामाजिक कार्यकर्ता के रूप मे काम करने के लिए maharashtra government ने "Ahilyabai Holkar Award"दिया। इसके अलावा इन्हें total 273 national और international awards मिले हैं।

इन awards से मिले सारे पैसे अनाथालय कै लिए use किए। 

उसका अनाथालय पुणे(Pune), वर्धा(Wardha), सासवड(Saswad) ,महाराष्ट्र में स्थित है।

2010 में सिंधुताई की biography पर आधारित एक मराठी फिल्म "Mee Sindhutai Sapkal" की शूटिंग की गई थी, जिसे 54th, London Film Festival के लिए चुना गया था। 

सिंधुताई poems भी लिखती हैं और उनकी poems  में उनकी life journey का पूरा सार है।

Post a Comment

Previous Post Next Post